MRP Ka Full Form क्या है { सारी जानकारी }

0
369
MRP Ka Full Form क्या है { सारी जानकारी }
MRP Ka Full Form क्या है { सारी जानकारी }

कैसे है आप सब लोग आज फिर हम आप सभी के लिए कुछ ऐसा लेकर आये हैं जो आपके  लिए बहूत खाश हैं,आपके लिए आज  हम आप को बताऊंगा की MRP Ka Full Form क्या है । जब कभी आप कोई भी छोटा या बड़ा product खरीदते है तो उसके box पर या किसी भी प्रकार के पैकेट पर आपने एक चीज देखी होगी, वहाँ पर MRP rs(rate) लिखा होता है

 

MRP के just बाद ही उस product का rate लिखा होता है। Rate रुपयो में MRP लिखा होता है , Product के rate वह सिर्फ रुपयो में लिकह सकते थे लेकिन वहां MRP ही लिखा होता है ,बहुत से लोग नही जानते है ये MRP आखिर होता क्या है ,इसलिए आज हम आपको इसके बारे में बताने जा रहव है ,MRP Full Form क्या है ? इसका क्या इस्तेमाल है और किसी product के rate MRP में क्यों लिखे होते हैं?

 

MRP Ka Full Form क्या है :-

 

आखिर MRP क्या है और MRP की फुल फॉर्म क्या है ? और MRP क्यों लिखा होता है ऐसे बहुत सारे सवाल आपके मन में आएं होंगे क्योंकि आपको भी MRP के बारे में कुछ नहीं पता है और आप भी MRP की फुल फॉर्म क्या है? और  MRP की पूरी जानकारी जानना चाहते हैं तो इस Article को ध्यान से अंत तक पढ़िएगा। आज हम इन्ही सब चीजों पर चर्चा करेंगे की mrp क्या है MRP Ka Full Form क्या है?  और mrp हर छोटे से बड़े Product में क्यों लिखा होता है Mrp के बारे मे आपको ये सब चीजें नही पता होगी । तो चलिए शुरू करते हैं MRP Full Form क्या है ?

 

पहले जब भी कोई Company अपना Product निकालती थी दुकानदार वह company से एक दाम में लेकर customer को मन चाहे दाम में बेचता था इसीलिए 2006 में सरकार की तरफ से एक नियम आया की हर Product में Mrp (Maximum Retail Price) होना आनिवार्य है क्योंकि MRP के चलते वह दुकानदार उस Product का दाम जितना भी बढ़ाए लेकिन MRP से ज्यादा नहीं बढ़ा सकता है क्योंकि वो गेर कानूनी है। अगर दुकानदार कोई Product MRP से ज्यादा में बेचता है तो आप उसके खिलाफ करवाई कर  सकते हैं।

 

Product का Mrp उसका निर्माता सामान में कुल लागत को जोड़ कर तय करता है किसी भी Product को दुकानदार उसके  Mrp  से ज्यादा कीमत  में नहीं बेच सकता है। दुकानदार को Product Mrp  से कम में मिलता है इस लिए वो चाहे तो अपना मुनाफा  निकाल कर Mrp से कम में  the बेच कर सकता है। Mrp सरकार के एक नियम के अनुसार लिखा जाता है Mrp  हर Product में लिखना अनिवार्य है आइए जानते हैं की MRP Full Form क्या है? 

 

MRP Ka Full Form Kya Hai? 

MRP Ka Full Form kya hai? 

{ MRP full form } MRP का फुल फॉर्म  Maximum Retail price है हिन्दी में इसका फुल फॉर्म ज्यादा से ज्यादा या अधिकतम खुदरा मूल्य है।

 

MRP:  Maximum Retail Price

 

M: Maximum

R: Retail

P: Price

 

ये तो आप सभी जानते है किसी चीज के अगर फायदे होते हैं तो साथ ही साथ उसके नुकसान भी होते है।ऐसे ही MRP के भी फायदे और नुकशान दोनो हैं तो  चलिए जानते है MRP के फायदे और नुकसान क्या- क्या है।

 

MRP के फायदे :-

 

Dosto आपको MRP Ka Full Form तो पता चल ही गया होगा लेकिन अब हमे Mrp के फायदे और नुकसान के बारे में जानना है सबसे पहले हम MRP के फायदे और फिर नुकसान के बारे में जानेगें।

 

दोस्तों आपने देखा होगा की भारत मे सभी चीजो के डब्बे  पर MRP कीमत लिखा होता है क्योंकि 2006 के Government Law के अनुसार को भी कम्पनी अपने Product का MRP(एम आर पी )तय  किये बिना वो अपने Product को बाजार में नहीं ला सकती है । 2006 से पहले mrp नहीं था तो दुकानदार customer से अपने मर्जी का दाम लेता था। MRP का सबसे बड़ा फायदा यह है कि कोई भी दुकानदार कोई भी Product  MRP (एम आर पी)  से ज्यादा में नहीं बेच सकता है MRP(एम आर पी)  से ज्यादा में product बेचना गेर कानूनी है ।

 

एमआरपी प्राइस से ज्यादा मैं प्रोडक्ट बेचना कानूनी अपराध है अगर कोई ऐसा करता है तो अब उसके खिलाफ आप सख्त से सख्त कार्रवाई कर सकते हैं। अगर उसमें दुकानदार दोषी पाया जाता है तो उसे जेल  भी हो सकती है या उसके ऊपर जुर्माना लगाया जा सकता है। तो आप समझ गए होंगे की एमआरपी के क्या फायदे हैं। ये थे MRP (एमआरपी) के फायदे ,जिसके अनुसार कोई भी दुकानदार अपने मन मर्जी से किसी भी चीज की कीमत नही तय कर सकता ।अब हम जान लेते हैं MRP (एमआरपी) के नुकसान के कोन- कोनसे हैं।।

 

MRP (एमआरपी) के नुकसान:-

 

ऊपर हमने  MRP(एमआरपी ) के फायदे बता दिए हैं अब हमें MRP( एमआरपी) के नुकसान के बारे में जानते है। वैसे तो MRP के कुछ खास नुकसान नहीं है बात करें ग्राहक की तो ग्राहक के लिए Mrp के कोई नुक्सान नहीं है MRP(एम आर पी) जो भी नुकसान है वो  दुकानदार का है। 

 

मान लिजिए कोई दुकानदार कोई Product टुकड़ियों में मंगाता है और उसका Product खरीदने का पैसा, टैक्स और लेन लेजाने का खर्चा  मिलाकर उस Product की कीमत की बीच की कीमत एम आर पी price (maximum retail price)  से ज्यादा हो जाती है तो उसमें दुकान वाले का नुकसान होता है क्योंकि वो एम आर पी कीमत से ज्यादा में उस Product को नहीं बेच सकता लेकिन दुकान वाले का उस Product को लाने मे ज्यादा पैसा लगा। 

 

वैसे ऐसा बहुत  कम होता है ,क्योंकि Product का एम आर पी सभी कर  और लेन  लेजाने के खर्चे  और मुनाफे को  जोड़ कर निर्धारित किया जाता है।लेकिन कभी कभी Mrp कम और दुकानदार (दुकान वाले) की लागत ज्यादा हो जाती है लेकिन उसे समान MRP रेट में ही बेचना पड़ता है। तब उसका नुकसान हो जाता है।

 

MRP कौन तय करता है ? 

 

किसी भी Product का MRP तय करना उसके मालिक के हाथ मे होता है Product का मालिक ही उसका Mrp तय करता है, Product बनाने मे जो लगता लगी है और किसी व्यापारी या दुकानदार का Product बेचने  के लिए ले जाने में जो खर्च लगा और मुनाफा  जोड़ कर Mrp तय किया जाता है। Mrp (एमआरपी) तय करने का अधिकार सिर्फ कम्पनी के मालिक को ही होता है ,किसी भी Product को बनाने में जितनी भी लागत आती है, मालिक उस लागत को जोड़कर  Product की MRP(एमआरपी) तय करते हैं।

 

दुनिया मे हर चीज किसी ना किसी मकशद के लिए बनाई गई है ऐसे ही MRP (एमआरपी) भी किसी मकशद के लिए लागू किया गया है।आईये जानते है MRP(एमआरपी) को लागू करने के पीछे कोनसा मकशद है ।

 

MRP का लक्ष्य और उद्देश्य:-

 

2006 से पहले जब Mrp नही था तो दुकानदार Company से Product ला कर ग्राहक को सामान दो गुने – तीन गुने पैसे मे बेच देता था ।खासकर ग्रामीण इलाको  मे दुकानदार सामान बहुत महंगे दामों में  बेचकर लोगों से ज्यादा पैसे लेता था, यही सब देखते हुए MRP लाया गया जिससे जिस Product का जितना दाम रखा गया है ग्राहक  को उतने ही दाम में वो Product मिल सके। 

 

MRP का सबसे बड़ा उद्देश्य Product उसके ग्राहक को सही दाम में देना है।हमने आज आपको बताया MRP Full Form क्या है ?अगर आप MRP(एमआरपी) को वीडियो से जानना चाहते है तो आप वीडियो से भी समाज सकते हैं ।

 

 

तो दोस्तों यह  थी हमारी आज की पोस्ट जिसमें मैंने आपको बताया MRP KYA HAI और  MRP Ka Full Form क्या है एमआरपी से जुड़ी सभी जानकारियां मैंने आप को इस पोस्ट में दे दी है। इस पोस्ट मैं मैंने विस्तार से बता दिया है की एमआरपी क्या होता है MRP ( एमआरपी) की फुल फॉर्म क्या होती हैं ? उम्मीद है आप समझ गए होंगे MRP(एमआरपी) के बारे में आपको सारी जानकारी मिल गई होगी ..आशा करते हैं आप आपके मन मेंMRP(एमआरपी)को लेकर कोई भी शंका नहीं होगी।

 

Also Read

Google Sandbox Kya hai

IPL Free Me Kaise Dekhe 

CDP Full Form क्या होता है 

Months Name In Hindi 

SDM Full Form { SDM क्या होता है } 

 

हम आपसे यह भी आशा करते हैं कि आपको हमारी यह पोस्ट MRP Ka Full Form क्या है पसंद आई होगी अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई हो तो अपने मित्रों के साथ हमारी पोस्ट को शेयर करना ना भूलें और अगर आपके मन में किसी भी प्रकार का कोई सवाल है कि नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करना ना भूलें । हमारी पोस्ट देखने के लिए धन्यवाद ….।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here